Damoh के गांव में शराब से दर्द दूर करने का भैरव बाबा का दावा!

दमोह के एक गांव में लगने वाला बाबा का ये आश्रम भी अजब है. जहां लोग दूर दूर से अपनी बीमारियां. दवा से इलाज का तो सभी करते हैं. दर्द होने पर कहा भी जाता है दवा दारू करा लो. तो दमोह के मनकपुरा गांव में दरबार सजाने वाले बाबाजी ने दवा को भुला दिया और दारू का जरा सीरियसली ले लिया. इसलिए दर्द होने पर बाबा दवा कम दारू ज्यादा देते हैं.
बाबाजी के आश्रम में नारे गूंजते हैं और उसके बाद जाम पर जाम छलकते हैं. पर ये ई ऐसा वैसा जाम नहीं सीधे भगवाना का प्रसाद है. ये दावा है खुद को भैरव का अंश बताने वाले इस बाबा का. जिनके पास अलग अलग तकलीफें लेकर दूर दूर से लोग आते हैं. और फिर ये दावा भी करते हैं कि काफी हद तक राहत मिली है.
पर मजेदार बात ये है कि ऐसा एक भी मरीज नहीं मिलता जो ये दावा करे कि बाबा के इलाज से रोग जड़ से मिट चुका है. तो फिर भला ये भीड़ लगी क्यों वाकई इंतजार दवा का है या दारू का है. जो राहत की बात पर लगने वाले भैरव बाबा के नाम पर यहां बंटने लगती है. वैसे तो बाबा एक प्याली शराब से लकवा, जोड़ों का दर्द जैसी बीमारियों के इलाजा का दावा भी करते हैं. पर तरीका देखकर ये अंदाज लगाना बिलकुल मुश्किल नहीं कि इलाज होता कैसे होगा. दमोह से विवेक सेन की रिपोर्ट #mpnews #damohnews #babaviralnews #babaviralvideos

(Visited 55 times, 1 visits today)

You might be interested in