Imarti devi के बाद Govind singh rajpoot ने चुनाव जीतने के लिए हर कुछ काम कर दिया. Ram की ईंट के नाम पर मांगे वोट.

कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह राजपूत काफी सुर्खियों में हैं. एक वही ऐसे सिंधिया समर्थक हैं जो ऊलझलूल बयान देने में इमरती देवी को टक्कर दे रहे हैं. पहले जुबान फिसली तो अपनी ही पार्टी के लिए कह गए मुंह में राम बगल में छुरी.
अब वही राम से रिक्वेस्ट कर रहे हैं कि भगवान चुनाव की नैया पार लगा दो. जब तक कांग्रेस में थे राम के नाम से ऐतराज था. अब बीजेपी में हैं तो राम के नाम पर ही वोट मांग रहे हैं. मतदाताओं को रिझाने के लिए कैसे कैसे हथकंडे अपना रहे हैं गोविंद सिंह राजपूत के समर्थक आप देखेंगे तो चौंक जाएंगे.
तो कहने का मतलब यही हुई कि गोविंद की जीत में भगवान राम की जीत है. वो गोविंद न सही तो यही सही जो धरती पर चुनावी दंगल में किस्मत आजमा रहे हैं. बस इस बार चुनावी कुरूक्षेत्र में गोविंद सारथी की जगह खुद यौद्धा हैं. देखना ये है कि राम का नाम का ये गोरखधंधा उन्हें कितना फायदा दिलाता है.

(Visited 12 times, 1 visits today)

You might be interested in