इंदौर में राशन के नाम पर बड़ा घोटाले का पर्दाफाश, कलेक्टर ने की सख्त कार्रवाई

मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में सरकारी राशन घोटाला को लेकर प्रशासन ने सख्त कार्रवाई की है. इंदौर में बड़े पैमाने पर राशन वितरण में गड़बड़ी सामने आयी है , पुलिस ने सबसे बड़े राशन घोटाले का खुलासा कर उसके माफियाओं को दबोचा और उससे पूछताछ की है. यही नहीं प्रशासन ने 12 अलग – अलग स्थानों पर कार्रवाई कर 40 राशन माफियाओं को सरकारी राशन के गड़बड़ी के मामले में आरोपी बनाया है. इनमें से कई के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई किए जाने की भी संभावना है. इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने योजनाबद्ध तरीके से इस कार्रवाई को अंजाम दिया.
इंदौर में लम्बे समय से गरीबो के साथ इस अत्यचार के शिकायतें प्रशासन को मिल रही थीं, इन्ही शिकायतों के आधार पर प्रशसान ने कुछ दुकानों में छापामार करवाई को अंजाम दिया . जानकारी के मुताबिक 12 राशन दुकानों में बड़े पैमाने पर राशन की हेरा -फेरी पकड़ी गई . लगभग 50 हजार राशन कार्डधारियों के हक का राशन खुले बाजार में बेचा जा रहा था. दावा ये भी है कि इस मामले में बहुत बड़े कारोबारी भी शामिल हैं और इस रैकेट में कुछ नेता भी शामिल हो सकते हैं .  आपको बता दें राज्य में भू -माफियाओ के अलावा शराब माफिया और कई अन्य माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया गया है. जिसके तहत ये कार्रवाई की गई.

(Visited 25 times, 1 visits today)

About The Author

You might be interested in