#SanaGanguly के पोस्ट का सच सामने आया, इस शख्स के हैं विचार

सौरव गांगुली की बेटी सना गांगुली का पोस्ट तेजी से वायरल हुआ. पोस्ट देश के मौजूदा हालात के बारे में था. जिसे आनन फानन में हटा लिया गया. पापा सौरव गांगुली ने बिटिया के पोस्ट पर सफाई भी दी. उसे कम उम्र का बता कर उसे राजनीति से बाहर रखने की अपील भी की. लेकिन आग तो तब तक लग ही चुकी थी. ट्विटर पर सना गांगुली तेजी से ट्रेंड करने लगीं. लोगों ने सौरव गांगुली को गलत ठहराया बेटी को सही बताया. पर दरअसल जिस पोस्ट पर इतना हंगामा हो रहा है वो सना के खुद के विचार हैं ही नहीं. इस पोस्ट में सना ने जो लिखा है उसका लब्बोलुआब कुछ यूं है कि ‘नफरत के आधार पर शुरू हुआ आंदोलन, भय और संघर्ष के माहौल के बने रहने तक ही चलता है. आज के समय में जो यह सोचकर खुद को महफूज मान रहे हैं कि वो मुसलमान नहीं हैं, वो मूर्खों की दुनिया में हैं.’ इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि संघ यानी आरएसएस पहले से ही उन युवाओं पर निशाना साधता रहा है जो वामपंथी इतिहासकारों और पश्चिमी संस्कृति से प्रभावित हैं.’ इस पोस्ट का पूरा ऊपर से नीचे तक देखेंगे तो ये जान जाएंगे कि दरअसल ये सना के खुद के विचार हैं ही नहीं. खुद सना ने आखिर में लिखा है कि ये खुशवंत सिंह की किताब द एंड ऑफ इंडिया के अंश हैं. यानि सना ने इस किताब के कुछ अंश चुराकर पोस्ट किए जो आज के हालात पर मौजू हैं. पर छोटी सी सना ये क्या जानें कि जब चोरी होती है तो हंगामा बरपना भी लाजमी हो ही जाता है.

(Visited 19 times, 1 visits today)

You might be interested in

LEAVE YOUR COMMENT