Gopal Bhargav के बाद मंत्रिमंडल पर छलका Shivraj singh chouhan का दर्द. Scindia को इस अंदाज में कहा लुटेरा!

कांग्रेस को जिस वक्त का इंतजार था वो शायद बीजेपी में आ चुका है. बीजेपी ने मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार गिराते हुए शायद इस वक्त की कल्पना भी नहीं की थी. पर कांग्रेस पहले ही इसकी आशंका जता चुकी थी. और जो कहा था वही हो रहा है. सिंधिया समर्थकों की वजह से पार्टी में असंतोष पनपने लगा है. कल गोपाल भार्गव ने अपना दर्द साझा किया. अब तो खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का दर्द छलक रहा है. शायद मंत्रिमंडल विस्तार न हो पाने से या मंत्रिमंडल में अपनी न चल पाने से मायूस शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीटर पर एक शेर लिखा है. शेर कुछ यूं है कि आए थे आप हमदर्द बनकर, रह गए केवल राहजन बनकर, पल पल राहजनी की इस कदर आपने कि आपकी यादें रह गईं दिलों में जख्म बन कर. हाल ही में दिल्ली से बेरंग लौटे शिवराज ने दिल्ली से लौटने के बाद ये पहला ट्वीट किया है. इस ट्वीट को सिंधिया से जोड़कर देखा जा रहा है. जिनकी वजह से शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार फिर से अटक गया है. माना जा रहा है कि सिंधिया की सहमती न होने की वजह से ही मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो पा रहा. क्योंकि सिंधिया अपने सभी समर्थकों को कैबिनेट में शामिल करवाने पर तुले हैं. जिनकी वजह से पार्टी के पुराने नेता नाराज हो रहे हैं. हालांकि शिवराज के ट्विटर एकाउंट में थोड़ा और नीचे जाएंगे तो कुछ और ट्वीट दिख जाएंगे.
दरअसल तीन जून को राहुल गांधी ने एक शायरी ट्वीट की थी तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफिला कैसे लुटा. मुझे रहजनों से गिला तो है पर तेरी रहबरी का सवाल है. प्रधानमंत्री के देश के नाम संदेश में चीन का जिक्र न होने पर राहुल गांधी ने ये सवाल किया था. शायर की तरह. जिसका जवाब शिवराज सिंह चौहान ने भी कुछ शायरा अंदाज में ही दिया. शिवराज ने लिखा कि यूं ही दिल खोलकर आप बात करें, कभी अपनों से भी सवाल करें. आपको रहजनों से गिला है तो , अपने यार रहजनों से आप कुछ तो सवाल करें. यहां तक तो सब बातें ठीक थीं. इसे यही माना जा रहा था कि शिवराज सिंह चौहान राहुल गांधी को जवाब दे रहे हैं. पर अचानक ये नई शायरी आ गई. जो किसी बात का जवाब नहीं था. बस इसी ने ये अहसास करवा दिया कि शिवराज के दिल का दर्द बढ़ता ही जा रहा है. पर मजबूरी देखिए कि शायरी में भी उसका नाम नहीं ले सकते जिस पर डाका डालने का इल्जाम लगा रहे हैं. वैसे इस दर्द का कोई मल्हम भी दिखाई नहीं दे रहा. डर है हालात यही रहे तो कहीं शिवराज सरकार से शायर न बन जाएं.
#shivrajshaiyarionrahulgandhi
#mpnews
#newslivemp
#shivrajsinghchouhan
#shivrajcabinet
#shivrajshayri
#shivrajtweet
#jyotiradityascindia
#kamalnath

(Visited 1919 times, 4 visits today)

You might be interested in