अब पशु के नाम पर भृष्टाचार पकड़ा गया पशु चिकित्सा

बुरहानपुर पशु चिकित्सा विभाग में भृष्टाचार का मामला सामने आया है.शेखपुरा में सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी के पद पर रहते हुए सरकारी धन गलत तरह से उपयोग करते रहे , जिस में दोषी राघवेन्‍द्र उर्धिया सहायक पशु चिकित्‍सक और उनकी पत्नि पर भृष्टाचार के आरोप लगे हैं .भृष्टाचार में सरकारी धन से अपनी पत्नी को प्लॉट गाड़ी और कृषि भूमि खरीदने का आरोप लगाया गया है. राघवेंद्र उर्द्धिया और पत्नी सत्यवती उर्द्धिया को 4-4 साल की जेल और 5-5 लाख का जुर्माना लगा कर सत्र न्यायाधीश संजीव कुमार गुप्ता ने दंडित किया. न्यूजलाइवएमपी.कॉम के लिए बुरहानपुर से गोपाल देव की रिपोर्ट

(Visited 95 times, 1 visits today)

You might be interested in

LEAVE YOUR COMMENT